link rel="alternate" href="http://gyangurutech.xyz/" hreflang="en-in" जानिए पाकिस्तानी जेलों में बंद भारतीय लोगो की क्या दशा है | Gyan Guru Tech

जानिए पाकिस्तानी जेलों में बंद भारतीय लोगो की क्या दशा है

indian in pakistan jail,condition of indian prisoners in pakistan
IMAGE CREDIT-indianexpress.com

जानिए पाकिस्तानी जेलों में बंद भारतीय लोगो की क्या दशा है

पाकिस्तान भारत का शुरू से ही विरोधी देश रहा है. हालांकि पाकिस्तान का जन्म हिंदुस्तान से ही हुआ है. लेकिन इस समय भारत और पाकिस्तान के रिश्ते में इतनी कड़वाहट भर चुकी है कि यदि कोई व्यक्ति गलती से भी पाकिस्तान की सीमा रेखा के अंदर चला जाता है तो पाकिस्तान के लोग उसे कड़ी यातनाएं देते हैं. आज भी भारत के कई मछुआरे और भारतीय सैनिक पाकिस्तानी जेलों में बंद है. जिनके लिए भारत सरकार ने पाकिस्तान से कई बार अपील भी की है कि उन लोगों को रिहा कर दें. पाकिस्तान की जेलों में बंद भारतीय लोगों को कई दिनों तक खाना नहीं दिया जाता है और जेल के अंदर उन्हें कड़ी यातनाएं दी जाती हैं. पाकिस्तान के लोग भारतीय लोगों से इतनी नफरत करते हैं कि वह उनके साथ जानवरों से भी बुरा सलूक करते है. सिर्फ एक सरहद के कारण लोगों के दिलों में इतना जहर भर जाएगा सोचकर बड़ी हैरानी होती है.

फिल्म सरबजीत इस वास्तविक तथ्य पर आधारित है. जिसमे यह दिखाया गया है कि पाकिस्तान के लोग किस प्रकार हिंदुस्तानियों से नफरत करते हैं. सरबजीत के लिए 20 साल तक उसके परिवार वाले केस लड़ते रहे. जब उसकी रिहाई का समय आया तो पाकिस्तान की जेलों में ही उसे मार दिया गया और बाद में यह कहा गया कि सरबजीत वहां पर कैदियों से लड़ते हुए मारा गया. जिस समय सरबजीत की लाश भारत में लाई गई थी. सरबजीत के शरीर की हड्डियां भी दिख रही थी.
condition of hindu in pakistan,pakistan jail me indian
image credit-dailymotion.com
अब आप ही बताएं कि एक ऐसा आदमी जिसके शरीर की एक एक हड्डी दिखाई दे रही हैं. जिसे देख कर कोई भी बता सकता है कि यह कई दिनों से भूखा रहा होगा तो ऐसा आदमी किस प्रकार कैदियों से लड़ सकता है. कभी सोचा ना था कि सिर्फ एक सरहद से लोगो के दिल इतने पत्थर हो जायेंगे. एक मशहूर गीत याद आता है कि पंछी नदियां पवन के झोंके कोई सरहद ना इन्हें रोके, सोचो हमने और तुमने क्या पाया इंसानों होके. इस नफरत भरे आलम को देख कर दिल यह कहता है कि हमारे से अच्छे तो पक्षी है जो जब चाहे कहीं भी आजादी से चले जाते हैं और उनके दिलों में भी इतनी नफरतें नहीं होती हैं. काश वह दिन आए जब लोगों के दिलों में नफरत खत्म हो जाए और दोनों देश मिलकर रहे.

दोस्तों आपकी इस बारे में क्या राय है. कमेंट करके जरूर बताएं.
SHARE

Suresh Kumar

दोस्तों मेरा नाम सुरेश कुमार है. मेरी इस वेबसाइट पर मैं अपने जीवन का हर एक अनुभव शेयर करता हूँ. मैं चाहता हूँ कि मेरे अनुभव का फायदा हर किसी को मिले. यदि आपको किसी बारे मे जानकारी है तो मुझे भी सिखायें. मै आपका आभारी रहूंगा.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment