link rel="alternate" href="http://gyangurutech.xyz/" hreflang="en-in" बैंक में अकाउंट खुलवाने जा रहे हैं तो जानिए कौन सा अकाउंट आपके लिए बेहतर होगा | Gyan Guru Tech

बैंक में अकाउंट खुलवाने जा रहे हैं तो जानिए कौन सा अकाउंट आपके लिए बेहतर होगा


बैंक में खाता खोलने की जानकारी,चालू खाता खोलने की प्रक्रिया,current account,saving account,current account rules,what is current account in hindi

बैंक में अकाउंट खुलवाने जा रहे हैं तो जानिए कौन सा अकाउंट आपके लिए बेहतर होगा


दोस्तों हम सभी लोग बैंक में अपने पैसे को इसलिए जमा करते हैं. ताकि हमें अपने पैसे पर ब्याज मिलता रहे और हम अपने पैसे को जब चाहे इस्तेमाल कर सकें. लेकिन कई बार सही जानकारी ना होने की वजह से हम बैंक में गलत अकाउंट खुलवा कर अनचाहा नुकसान करवा बैठते हैं. आज हम आपको इस पोस्ट में इस बात की जानकारी देंगे कि हमें किस प्रकार का अकाउंट खुलवाना चाहिए. दोस्तों यदि आप कहीं नौकरी करते हैं और आपकी सैलरी आपके बैंक खाते में आती है और आपको अपने अकाउंट से हर महीने पैसे निकलवाने होते हैं. लेकिन आप 1 महीने में अपने अकाउंट के अंदर 3 से 5 के भीतर ही ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपके लिए सेविंग अकाउंट बेहतर होगा. क्योंकि सेविंग अकाउंट के अंदर आपको 5 ट्रांजैक्शन तक की सुविधा मिलती है. उसके बाद यदि आप सेविंग अकाउंट के अंदर ट्रांजैक्शन करते हैं तो आपको 20 प्रति ट्रांजैक्शन के हिसाब से चार्ज देना होता है. यदि आपकी 1 महीने मे 5 से अधिक ट्रांसलेशन होती है तो आप 2 सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं. यदि आपकी एक सेविंग अकाउंट के अंदर ट्रांजैक्शन लिमिट पूरी हो चुकी है तो आप दूसरे सेविंग अकाउंट का इस्तेमाल कर सकते हैं.

जो लोग व्यवसाय करते हैं. उनके लिए करंट अकाउंट खुलवाना लाभदायक होता है. हालांकि करंट अकाउंट के अंदर आपके द्वारा जमा की गई राशि पर आपको कोई ब्याज नहीं मिलता है. लेकिन करंट अकाउंट के अंदर आप अनलिमिटेड ट्रांजैक्शन कर सकते हैं. इसके अंदर आपका ट्रांजैक्शन पर कोई चार्ज नहीं लगता है. जो लोग बिजनेस करते हैं. उनको प्रतिदिन कई लोगों को पेमेंट करनी होती है और कई लोगों से पेमेंट लेनी होती है. ऐसी स्थिति में यदि वे सेविंग अकाउंट खुलवा लेते हैं तो उनको प्रति ट्रांजैक्शन के ऊपर चार्ज देना होगा. जिससे उनको बहुत नुकसान उठाना पड़ सकता है. इसलिए यदि आप बिजनेस करते हैं तो आपके लिए करंट अकाउंट बेहतर होगा. करंट अकाउंट के अंदर आपको यह सुविधा भी मिलती है कि आपके अकाउंट में पैसे नहीं भी है. तब भी आप बैंक के द्वारा तय लिमिट के अंदर अपने अकाउंट से खर्च कर सकते हैं. उसके बाद आपको वह पैसे बैंक को लौटाने होते हैं. करंट अकाउंट के अंदर आप को मिनिमम बैलेंस रखने की कोई आवश्यकता नहीं होती है. इसमें आपके खाते में यदि कोई पैसा नहीं भी होता है तो बैंक के द्वारा आपसे कोई एक्स्ट्रा चार्ज नहीं लिया जाता है. दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको यह समझ आ गया होगा कि आपके लिए कौन सा अकाउंट बेहतर रहेगा.

दोस्तों आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर करें.


SHARE

Suresh Kumar

दोस्तों मेरा नाम सुरेश कुमार है. मेरी इस वेबसाइट पर मैं अपने जीवन का हर एक अनुभव शेयर करता हूँ. मैं चाहता हूँ कि मेरे अनुभव का फायदा हर किसी को मिले. यदि आपको किसी बारे मे जानकारी है तो मुझे भी सिखायें. मै आपका आभारी रहूंगा.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment